AirFiber क्या है? – AirFiber कैसे काम करती है?

21th सदी की नयी खोज जिसने ऑप्टिकल फाइबर की टेक्नोलॉजी को बदल कर रख दिआ जिसे Air Fiber नाम दिआ गया है।दरअसल एयर फाइबर ऑप्टिकल फाइबर का नया वर्जन है .

एयर फाइबर हवा मै ट्रांसमीटर और रिसीवर के द्वारा सिगनल काम करता है और ऑप्टिकल फाइबर मै तार द्वारा सिग्नल काम करता है। जैसे की फाइबर का परयोज इंटरनेट इस्तेमाल करने मै किया जाता है।

ऐसी तरह एयर फाइबर का परयोज ज्यादा तर इंटरनेट परयोज करने मै किया जाता है।

कैसे काम करती है एयर फाइबर- working of Air Fiber

एयर फाइबर मै एक ट्रांसमीटर और रिसीवर होता है। जैसे की ट्रांसमीटर सिग्नल को भेजता है और रिसीवर उस सिग्नल को पकड़ता है
ऐसी प्रकार से एयर फाइबर का ट्रांसमीटर उसके एंटेना(Antenna) मै लग्गा होता है और रिसीवर जहा पर सिगनल लेना होता है बहा पर ‘
लग्गा होता है।

Air Fiber वायरलेस सिग्नल लेने क बाद उस सिग्नल को रिसीवर से ऑप्टिकल डिटेक्टर (Optical Detector) मै तब्दील
कर देता है। ऑप्टिकल डिटेक्टर फ्रीक्वेंसी सिगनल को लाइट सिग्नल मै बदल देता है। ऐसे ही लाइट सिगनल का प्रयोग ऑप्टिकल एयर फाइबर मै किया जाता है।

एयर फाइबर टेक्नोलॉजी “जैसा नाम बैसा काम” यह टेक्नोलॉजी एक बहुत बड़ी इनोवेशन है जिसने बहुत कुश बदल कर दिखा दिए है।
एयर फाइबर रेडियो वेव से काम करती है जिसे इंग्लिश मै रफ(रेडियो फ्रीक्वेंसी ) टेक्नॉलजी कहा जाता है।

दरअसल रेडियो वेव एक तरह का नेटवर्क होता है जिसे हम्म कम्युनिकेशन करते है। अज्ज के ज़माने मै 100% परयोज RF का कम्युनिकेशन मै किया जा रहा है। रेडियो फ्रेक्वेंसी 950 Mhz और 2150Mhz पर काम करता है। यह मेगाहर्ट्ज बैंड्स फ्रीक्वेंसी को डिवाइड करते है अलग अलग बैंड्स मई जिस से इंटरफरेन्स ना हो सक।

कहा काम आती है Air Fiber – Uses of Air Fiber

अगर हम इंडिया की बात करे तो हाल ही मै भारत फाइबर की तरफ से जो एअक एक BSNL का हिस्सा है उसने भारत मै एयर फाइबर
का प्रयोग बहुत अशी तरह से किया है। इंडिया मै भात फाइबर ने गांव के लोगो के लिए एक बेस्ट इंटरनेट का निर्मान किया है।
एयर फाइबर टेक्नोलॉजी लोगो को जहा पर इंटरनेट नहीं या सकता था बहा पर एयर फाइबर की मदद से इंटरनेट पुचाया है इस की मदद से
गांव के लोग एअक फ़ास्ट स्पीड इंटरनेट का प्रयोग कर सकते है जो की बहुत बड़ी बात है। वायरलेस हाई स्पीड ब्रॉडबैंड इंटरनेट की
मदद से बहुत सरे लोग इंटरनेट से कनेक्ट हो सके है।

ईस्तेमाल कैसे करें – how to use Air Fiber

एयर फाइबर को इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है जब अप्प अपने घर पर एयर फाइबर का कनेक्शन लेते है तो आपको ब्रॉडबैंड
द्वारा कनेक्शन दिए जाता है। बहा पर आपके पास कंपनी इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर के इंजीनियर ाव क इनस्टॉल कर देंगे और
आप के घर मै वायरलेस ब्रॉडबैंड द्वारा इंटरनेट चलने लग्गेग। एयर फाइबर की स्पीड 20Mbps से लेकर 200Mbps तक्क होती है।

और जानकारी

दुनिआ भर मै ऑप्टिकल फाइबर ही एक ऐसा जरिए है जिस से फ़ास्ट इंटरनेट संभव है। इस टेक्नोलॉजी के युग मै न रुकने वाला कोई भी नहीं है ऐसी तरह ऑप्टिकल फाइबर केबल जहा पर न जा सकीय तो बहा  Air Fiber का इस्तेमाल होने लग्ग गया है। अगर ऐसा चलता रहा तो पूरी दुनिआ मै जितने भी गांव है बहा पर कुश ही समय मै तेज इंटरनेट हो जायेगा।

अगर हम अज्ज से कुश समाये की बात करें तो पहले DSL ब्रॉडबैंड होते थे जिस से इंटरनेट चल तो पाता था लकिन इंटरनेट की स्पीड
ज्यादा नहीं आती थी इस प्रॉब्लम को देखते हुए ही फाइबर का प्रोडक्शन चेंज हुआ जिस से इस टेक्नोलॉजी का निर्माण हुआ अज्ज इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल पूरी दुनिआ करती है।

अगर हम BSNL की बात करे तो बीएसएनएल की पूरे भारत मै सिर्फ DSL कॉपर वायर वाला इंटरनेट चल पाता था जिस की स्पीड
लगभग 1 या 2 MBPS होती थी लकिन अब फाइबर क ज़माने मै इसकी स्पीड 100 गुना ज्यादा हो चुकी है। अगर आपको लगता है की आपको फ़ास्ट इंटरनेट की जरुरत है तो अप्प इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर सकते हो। आपको कोई इस मै तार लगवाने की कोई जर्रोरत नहीं और ना ही कोई वायर कट की प्रॉब्लम आने वाली है।

एयर फाइबर के फायदे

1 Air Fiber मै आपको कोई फाइबर कट की प्रॉब्लम नहीं आती है।
2 इस मै आपको स्पीड बहुत फ़ास्ट मिलती है लगभग Max 200Mbps
3 आपको इंस्टालेशन मै ज्यादा प्रॉब्लम नहीं आएगी।
4 DSL के मुकाबले इंटरनेट बेस्ट चलता है।
5 इसमें आपको पिंग अच्छा मिलता है गेमिंग के लिए।

एयर फाइबर के नुक्सान

1 एयर फाइबर बहुत कस्तली है बाकि ब्रॉडबैंड के मुकाबल।
2 खराब होने पर अप्प इसे रिपेयर नहीं कर सकते इस के लिए इंजीनियर की जर्रोरत होती है।
3 इस के लिए आपको मौसम मै स्पीड कम् आ सकती है बारिश के टाइम।
4 स्टेबल इंटरनेट नहीं चलता है क्यूंकि एयर के दुवारा सिग्नल ट्रांसमिट होता है।
5 सिगनल्स की इंटरफारे हो सकती है।

अगर आपको हमारा आर्टिकल बेस्ट लगा तो हमें कमेंट करके जर्रोर बताना इस से हमें बहुत सुपूर्त मिलता है। अगर ापक कोई सहायता
चाहिए तो हमें कांटेक्ट कर सकते है

Leave a Comment