क़ुतुब मीनार की लम्बाई ? – Qutub Minar Ki Lambai ?

क़ुतुब मीनार की लम्बाई ? (Qutub Minar Ki Lambai)

क़ुतुब मीनार भारत की सबसे बड़ी मीनार है जो लाल और बफ सैंड से बनी हुई है। ये मीनार 13 सदी में राजधानी दिल्ली में बनाई गयी थी। ये दिल्ली के मेहरोली में स्थित है ,सब से बड़ी ये मीनार ईंट से बनी है। इसका निर्माण अफगानिस्तान में स्थित जाम मीनार से आगे निकलने के लिए करवाया। इसके  पास परिषर क़ुतुब काम्प्लेक्स है जो यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज भी है। क़ुतुब मीनार का निर्माण दिल्ली मुस्लिम शासक के संस्थापक क़ुतुबुद्दीन ने 12 वि सदी  में करवाना सुरु किया था। इसके  बाद 1220 में ऐबक उत्तरादिकारी ने इसमें तीन मंजीले और बना दी। क़ुतुब मीनार का निर्माण ऐबक ने करवाना सुरु किया और इल्तुतमिश ने पूरा करवाया ,1369 में किसी दुर्घटना के कारण फ़िरोजशा तुगलक ने दुरुस्त किया।दिल्ली में बहुत  प्राचीन इमारते है जिनमे से एक क़ुतुब मीनार है। क़ुतुब मीनार को UNESCO द्वारा भारत में India’s Oldest Global लिस्ट में भी शामिल किया गया है।ये मीनार बख्त्यार काकी दुवारा बनाई गयी थी  जो एक सूफी संत थे। इसका नक्शा तुर्की में बनाया गया था।  हम आगे इस की  कुछ  और दिलचप बातो पर नज़र पाएंगे।

क़ुतुब मीनार की लम्बाई ? (Qutub Minar Height)

इस मीनार को लाल ईंटो से बनाया गया है। क़ुतुब मीनार की उचाई 72.5 मीटर है और बियास 14 .32 मीटर है।

क़ुतुब मीनार कब बना था

दिल्ली में स्थित सब से बड़ी मीनार क़ुतुब मीनार का निर्माण 1200  ईसवी में  दिल्ली के पहले  मुस्लिम बादशाह बादशाह कुतुबुद्दीन ऐबक ने  पहली मंजिल का निर्माण करवाया।इसके आगे ऐबक उत्तरादिकारी और पोते इल्तुतमिश  ने 1220 ईसवी में तीन मंजिल और बनवा  दी थी।इसके बाद 1369  ईसवी में सबसे ऊपर वाली मंजिल बिजली कदकने की बझे से पूरी तरह टूट गयी थी इसके बाद फिरोज शाह तुगलक ने फिरर से एक वर इस मीनार का निर्माण सुरु किया और वो हर साल बाद नई मंजिल का निर्माण करवाते रहे। इस ईमारत का निर्माण सुरु करवाया ऐबक ने और  इल्तुमिश ने पूरा करवाया और दुर्घटना के बाद फ़िरोज़शाह ने दुरुस्त कराया।

कुतुब मीनार की कितनी मीनार है?

दिल्ली में स्थित ये शानदार मीनार 73 मीटर ऊंची है। इस ईमारत में पांच अलग अलग मंजिले है, प्रत्येक को एक प्रोजेक्टिंग बालकनी और आधार पर 15 मीटर ब्यास से शीर्ष पर सिर्फ 2.5 मीटर तक चिन्हित किया गया है.

कुतुब मीनार क्यों बनाया गया था?

अफगानिस्तान में स्थित जाम मीनार से प्रेरित और उससे आगे निकलने की इछा से दिल्ली के मुस्लिम शाशक क़ुतुब -उद -दिन ने बैशाला को तोड कर सन्न 1200 ईसवी को क़ुतुब मीनार का निर्माण करवाया।

दुनिया में सबसे बड़ी मीनार कौन सी है?

दिल्ली के मेहरोली भाग में  में स्थापित की गयी इमारत क़ुतुब मीनार दुनिआ की सब से बड़ी मीनार है। ये लाल ईंटो से बनी हुई है।  इसका निर्माण क़ुतुब -उद -दिन ने सुरु करवाया था।

कुतुब मीनार कितने साल पहले बना था?

क़ुतुब मीनार का निर्माण 12 सदी में हुआ था. इसका काम 1200 में सुरु हुआ और कई बर्षो तक चलता रहा.

कुतुबमीनार का दूसरा नाम क्या है?

इस मीनार के नाम क़ुतुब मीनार को कुतुबुद्दीन से जोड़ दिया। इस ईमारत का दूसरा नाम ‘बिष्णू  स्तंभ’ है।

चारमीनार कौन से शहर में है?

चारमीनार भारत की एतिहासिक इमारतों में प्रमुख है, यह ईमारत हैदराबाद में पर्यटन लिहाज से काफी मशहूर है। इस मीनार से हैदराबाद की एक अलग पहचान बन पाई है। ये इमारत हैदराबाद में मुसी नदी के किनारे स्थित है। चारमीनार एक प्राचीन नायब नमूना है।

Leave a Comment