जीडीपी क्या है – GDP का पूरा नाम क्या है

अगर आप एक स्टूडेंट हो तो अपने यह सवाल ऍम तोर पर हर जगह सुना होगा , लकिन आपको इसका उत्तर नहीं पता होगा हम इस आर्टिकल की मदद से आपको इसका उतर देंगे।

GDP क्या है (What is GDP In Hindi)

What-is-GDP-In-Hindi

दोस्तों आज हम बात करेंगे की GDP क्या है और इसे कैसे कैलकुलेट किया जाता है। दोस्तों जैसे की आप ने टीवी या रेडियो में सुना होगा की हमारे देश का GDP काम या ज्यादा हो चूका है तब आपके मन में यह सवाल अत होगा की जीडीपी होती क्या है। आपको बतादे की जीडीपी का पूरा नाम ” ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट “ (Gross Domestic Product) यानि हिंदी में ” सकल घरेलू उत्पाद “ बोला जाता है। जैसे की किसी भी एक तय समय में जैसे की एक साल में किसी भी देश में त्यार होने वाले सामान को उसकी कीमत बाजार की कीमत से लगायी जाये तो उसे ही GDP यानी  ” ग्रॉस डोमेस्टिक प्रोडक्ट ” बोला जाता है। जैसे की सरल भाषा में जैसे एक देश में जितंना भी प्रोडक्शन हुआ है उसे जीडीपी बोला जाता है।

GDP मुख्य रूप से तीन चीजों पर निर्भर होती है

  1. कृषि   (Agriculture)
  2. उद्योग (Industrial)
  3. सेवा    (Services)

यह तीन ऐसे व्यापार है जो दर्शाते है की जीडीपी कितनी होगी। अगर यह तीनो बढ़ते या घटते है तो इस से ही यह जीडीपी तेह होती है। आपको बतादे की जीडीपी को अर्थ बिबसता का सूचक भी कहा जाता है। क्यूंकि इस से मार्किट में होने वाली गति का पता चलता रहता है। आपको बता दे की जो सामान केवल अपने देश में बना होता है उस को ही GDP में गिना जाता है। जैसे की मान ले अगर कोई चीज़ भारत में बनती है और दूसरे देश में जाकर बिकती है तो उसे भी इस में जोड़ा जायेगा। जैसे की कोई चीज़ दूसरे देश में बनती है और भारत में आकर बिकती है तो उसे गपड में नहीं गिना जायेगा। अगर आप किसी भी देश की अर्थ बिबश्ता को जानना चाहते है तो सबसे अच्छा तरीका है जीडीपी।

GDP को कैसे मापा जाता है (How To Measure GDP in Hindi)

अगर आप जीडीपी को मापना चाहते है तो हम आपको इस आर्टिकल के जरिये बतायेगे। जीडीपी को मापने के लिए हम आपको एक फार्मूला बता रहे है जिस से आप बड़ी आसानी से इस को माप सकते है।

How-To-Measure-GDP-in-Hindi

GDP = C + I + G + (X – M)

  1. (C) represents private-consumption expenditures
  2.  (I) investment
  3. (G) government spending
  4.  (X) exports minus its imports.

आखिर जीडीपी को कैलकुलेट क्यों किया जाता है , ऐसा इस लिए किया जाता है की कैलकुलेट करने के बाद एक नंबर होता है जो बताता है की देश की आर्थिक स्तिथि केसी है। इस तरह से अंदाजा लगाया जाता है की देश तारीकी कर रहा है जा नहीं। आपको बतादे की जो जीडीपी कैलकुलेट की जाती है यह केवल एक साल के समय के लिए ही होती है। यह सब करने के बाद जो नंबर आता है तो हमारे देश की तुलना दूसरे देश से की जाती है की कोनसा देश कितनी तररकी कर रहा है और कौन देश तररकी नहीं कर रहा है।

और जाने

  1. योग क्या है»योग के प्रकार 2021
  2. Mahanagar (Metropolitan) क्या है?

GDP कैसे बढ़ता है (How To Increase GDP in Hindi)

अगर आप जानना चाहते है की GDP कैसे बढ़ता है आप को बता दे की आप जिस देश में रहते है अगर उस देश में ही बना हुआ सामान खरीदोगे तो उस देश का जीडीपी बढ़ेगा। अपने सही सुना अगर आप अपने देश में बना हुआ सामान खरीदोगे न की किसी और देश से इम्पोर्ट  नहीं करवाओगे तो आपके देश का जीडीपी बढ़ ता है। ऐसा इस लिए है क्यूंकि जब हमारे देश में सामान बनेगा और हमारे देश में ही बिकेगा तो जो पर्सेंटेज बनेगा बोह अच्छा बनेगा देश को तारीकी की और लेकर जायेगा। जैसे की हमने आपको पीछे पैराग्राफ में बताया गया है की कैसे आप एक फार्मूला की मदद से किसी भी देश का जीडीपी निकाल सकते है और उसका अनुमान लगाया जाता है।

भारत की जीडीपी कितनी है (What is India GDP in Hindi)

भारत की जीडीपी लगभग 2.87 lakh Crores USD (2019) है। यह लगभग 2019 का डाटा है।

जीडीपी कम कैसे होती है

ऐसा इस लई होता है क्यूंकि जब देश में ज्यादातर समान इम्पोर्ट होने लग जाये और एक्सपोर्ट कम हो इस कारन से भी हो जीडीपी कम हो जाती है। जीडीपी को कम होने को अच्छा नहीं माना जाता है यह देश के लिए खतरे की घंटी को माना जाता है , ऐसा होने पर देश गरीबी की रेखा में चला जाता है। देश में नौकरी कम हो जाती है सभी व्यापार बंद या कम हो जाते है। देश पूरी तरह मंडी में चला जाता है। यह कारन थे की जीडीपी कम कैसे होती है।

Conclusion

हमने इस आर्टिकल में बताया है की जीडीपी कब और कैसे बढ़ता है इसके करने के बारे में भी बताया गया है। अगर आपको यह आर्टिकल अच्छ लगा है तो हमें कंमेंट करके जरूर बताना। अगर आपको इसके बारे में और जानकारी चाहिए या फिर किसी और अन्य टॉपिक पर चाहिए तो आप हमारे ईमेल पर कांटेक्ट कर सकते है। आपका इस आर्टिकल को पढ़ने के लिए धन्यबाद।

Leave a Comment